Friday, May 3, 2019

सूर्य की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay

सूर्य की महादशा और अंतर्दशा के उपाय, Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay, Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Totke, Surya Ki Mahadasha-Antardasha Me Kare Ye Upay, Surya Ki Mahadasha-Antardasha Me Kya Kare, Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Mantra.
10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678
नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )
30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678
हर महीनें का राशिफल, व्रत, ज्योतिष उपाय, वास्तु जानकारी, मंत्र, तंत्र, साधना, पूजा पाठ विधि, पंचांग, मुहूर्त व योग आदि की जानकारी के लिए अभी हमारे Youtube Channel Pandit Lalit Trivedi को Subscribers करना नहीं भूलें, क्लिक करके अभी Subscribers करें : Click Here

सूर्य की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay

आज हम आपको Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay बताने जा रहे हैं ! Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay को करके आप सूर्य ग्रह के दुष्प्रभाव से बच सकते हैं ! बताये जा रहे Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay को आपको सूर्य जब अशुभ प्रभाव दे रहा हो या सूर्य आपकी कुंडली में नीच या अशुभ भाव में हो या सूर्य की दशा व् अन्तर्दशा या गोचर में अशुभ परिणाम दे रहा हो जब बताये जा रहे सूर्य के उपाय को करने चाहिए ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे सूर्य की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay को पढ़कर आप भी बहुत आसन तरीक़े से सूर्य ग्रह से हो रही परेशानी को दूर कर सकोंगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 9667189678 Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay By Acharya Pandit Lalit Trivedi

सूर्य की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Surya Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay

  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को दिए गये मंत्र की रोजाना एक माला का जाप करें चाहिए ! मंत्र : "ॐ रं रवये नमः" या "ॐ घृणी सूर्याय नमः" !
  • सूर्य ग्रह की दशा व् अंतर्दशा जातक को रात्रि में सोते समय अपने सिरहाने ताँबे के पात्र में जल भरकर रखना चाहिए  व् दूसरे दिन प्रातः काल उठ कर उसे पीना चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को गुड़ खाकर एवं जल पीकर नित्यकर्म शुरू करने चाहिए !
  • सूर्य ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में लाल रंग की गाय की सेवा या लाल वर्ण के कुत्ते की सेवा करनी चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को 108 रविवार तक ताम्र बर्तन में शुद्ध जल, लाल चन्दन मिलाकर सूर्य को अर्ध्य देकर सूर्य स्त्रोत का पाठ करना चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को सूर्य के मन्त्रों का किसी ब्राह्मण से जाप विधिपूर्वक जाप करवाने चाहिए !
  • जातक की कुंडली में सूर्य नीच का हो तो Surya Ki Mahadasha-Antardasha में सूर्य की चीजों का दान न लेवें और सूर्य उच्च का हो तो सूर्य की चीज़ो का दान नही देना चाहिए !
  • सूर्य ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में जातक को प्रत्येक रविवार को बहते पानी में गुड बहाना चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में यदि जातक को आँख सम्बंधित परेशानी हो रही हो तो उसके लिए जातक को सूर्य नमस्कार करना चाहिए !
यदि आपके जीवन में भी सूर्य ग्रह के कारण किसी भी तरह की परेशानी आ रही हो तो अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को संक्रांति के दिन तुलादान करना चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को घर का आँगन खुला रखें तथा घर का द्वार पूर्व दिशा की और रखना चाहिए !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में सूर्य के कारन जातक को संतान बाधा हो रही हो तो सूर्य के वेदोक्त मन्त्रों के सात हजार जप एवं तत्संबंधित वस्तुओं का दान तथा सूर्य को अर्ध्य देते हुए रविवार का नियमित व्रत करना चाहिए व्  पितर दोष की शांति भी करानी चाहिए !
  • जिस भी जातक की कुंडली में सूर्य यदि पापग्रहों के साथ हो, विशेष रूप से शनि, केतु या राहु की युति में हो तो जातक को विधिवत “रुद्राभिषेक“ करना चाहिए !
  • कुंडली में अशुभ सूर्य होने पर Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को सरकारी नौकरी में स्थानान्तरण का भय हो तो सूर्योदय के समय तांबे के लोटे में जल लेकर उसमे लाल मिर्च के 21 दाने डालकर नित्य सूर्य को अर्ध्य देंने व् प्रार्थना करने से स्थानांतरण रुक जाता है !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में या कुंडली में अशुभ सूर्य के कारन शत्रु से परेशान होने पर प्रतिदिन तांबे के लोटे में जल में दूध, लाल पुष्प, व् लाल चन्दन मिलाकर अर्ध्य देने से गुप्त शत्रु से मुक्ति मिलती है !
  • Surya Ki Mahadasha-Antardasha में जातक को ज्योतिष से बिना पूछे सूर्य की वस्तुओं का दान कभी नहीं देना व् लेना चाहिए !
  • यदि जातक की कुंडली में अशुभ सूर्य धन भाव में समस्या दे रहा तो बहते हुए जल में गुड़ बहाना चाहिए !
  • यदि जातक की कुंडली में छठे भाव में सूर्य हो और Surya Ki Mahadasha-Antardasha में उसके कारण रोग हो रहे हो तो बंदरों को गुड़ चना व् चीटियों को शक्कर डालनी चाहिए !

यदि आपके जीवन में भी सूर्य ग्रह के कारण किसी भी तरह की परेशानी आ रही हो तो अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )
Related Post : 



Disqus Comments